Bytedance का एक और App भारत को कहेगा अलविदा! कंपनी 31 जनवरी को बंद करेगी सर्विस, यूजर्स को मिलेगा रिफंड

Gypsy News

Gypsy News

हाइलाइट्स

भारत में बंद होगा बाइटडांस का म्यूजिक स्ट्रीमिंग ऐप रेसो.
31 जनवरी को बंद हो जाएगी सर्विस.
कंपनी ने दिया लोकल मार्केट कंडीशन का हवाला.

नई दिल्ली. टिकटाॅक की पेरेंट कंपनी बाइटडांस (ByteDance) भारत में अपनी एक और सर्विस को बंद करने जा रही है. कंपनी ने अपनी म्यूजिक स्ट्रीमिंग सर्विस रेसो (Resso) को बंद करने का ऐलान किया है. सूचना मिली है कि कंपनी इस सर्विस को इस महीने के अंत में यानी 31 जनवरी को बंद कर देगी. इस तरह, दुनिया के दूसरे सबसे बड़े इंटरनेट मार्केट से चीन की दिग्गज टेक कंपनी का एक और प्रोडक्ट आउट हो जाएगा.

इस ऐप को दिसंबर 2023 के मध्य में भारत के गूगल प्ले और एप्पल ऐप स्टोर से हटा दिया गया था. हालांकि, यह स्ट्रीमिंग सर्विस अभी काम कर रही है. फिलहाल इसे मोबाइल ऐप के साथ-साथ डेस्कटॉप वेबसाइट पर भी इस्तेमाल किया जा सकता है. हालांकि अब ऐप या वेबसाइट पर सब्सक्रिप्शन खरीदने का विकल्प नहीं है.

वापस होगी सब्सक्रिप्शन फीस
‘मनीकंट्रोल’ से हुई बातचीत में बाइटडांस के प्रवक्ता ने कहा कि दुर्भाग्य से, लोकल मार्केट कंडीशन के कारण हम अब भारत में रेसो के यूजर्स को सर्विस जारी नहीं रख सकते. इसलिए हमनें 31 जनवरी को रेसो और इससे संबंधित ऑपरेशन को बंद करने का निर्णय लिया है. उन्होंने कहा कि यूजर्स को उनकी शेष सब्सक्रिप्शन फीस वापस की जाएगी.

तीन साल के भीतर बंद हुआ ऐप
बाइटडांस ने मार्च 2020 में भारत, इंडोनेशिया और ब्राजील में रेसो को लॉन्च किया था. ऐप पर यूजर्स को फ्री और पेड सब्सक्रिप्शन प्लान के माध्यम से कई जॉनर और लेंग्वेज में म्यूजिक स्ट्रीम करने की सुविधा दी जाती है. पेड सब्सक्राइबर्स को कई सोशल फीचर्स के अलावा ऐड-फ्री सॉन्ग, हाई-क्वालिटी वाले ऑडियो, ऑफलाइन सॉन्ग डाउनलोड करने और अनलिमिटेड स्किप की सुविधाएं ऑफर की जाती हैं. यह सर्विस 25 रुपये प्रति हफ्ते के अलावा व्यक्तिगत उपयोग के लिए 99 रुपये प्रति माह, परिवार के लिए 119 रुपये प्रति माह और 749 रुपये प्रति वर्ष के एनुअल प्लान तक की कीमतों पर उपलब्ध थी.

उथल-पुथल भरा रहा बाइटडांस का सफर
दुनिया के सबसे वैल्युएबल स्टार्टअप कंपनियों में से एक बाइटडांस का भारत में हाल का सफर उथल-पुथल भरा रहा. भारत सरकार ने जून 2020 में राष्ट्रीय सुरक्षा मुद्दों का हवाला देते हुए टिकटॉक, हेलो और कैपकट सहित इसके कई ऐप पर प्रतिबंध लगा दिया था. प्रतिबंध के बाद, कई चीनी ऐप को भारत के गूगल ऐप्पल और एप्पल प्लेस्टोर से हटा दिया गया था. जनवरी 2021 में सरकार ने ऐप पर स्थाई प्रतिबंध लगा दिया.

Tags: App, CHINESE APPS, CHINESE APPS BANNED, Tech news, Tech news hindi

Source link

और भी

Leave a Comment

इस पोस्ट से जुड़े हुए हैशटैग्स