सर्दी से बचने के लिए रातभर जलाकर सोते हैं रूम हीटर, हो सकते हैं ये 4 बड़े नुकसान, यूज करते समय बरतें ये सावधानियां

Gypsy News

Gypsy News

हाइलाइट्स

रूम हीटर चलाने से कमरे की नमी खो जाती है.
इससे स्किन ड्राई हो सकती है.

Side Effects of Room Heater: कड़ाके की सर्दी पड़ रही है. शीतलहर में लोगों का घर से निकलना दूभर हो रहा है, लेकिन मजबूरी है, ऑफिस, स्कूल, कॉलेज तो जाना ही है. जरूरी काम छोड़ नहीं सकते हैं, उन्हें पूरा करने के लिए घर से बाहर निकलना ही पड़ रहा है. लेकिन, जैसे ही लोग घर आते हैं तुरंत ही सर्दी कम करने के लिए रूम हीटर या ब्लोअर ऑन करके रजाई, कंबल में बैठ जाते हैं. इस दौरान रूम की खिड़कियां, दरवाजे सभी बंद होते हैं. घर-घर में लोग इन दिनों इसका खूब इस्तेमाल कर रहे हैं, ताकि खुद को सर्दी से बचा सकें. लेकिन, लगातार रूम हीटर और ब्लोअर का इस्तेमाल करना कई समस्याओं का भी कारण बन सकता है. जी हां, हीटर के कुछ नुकसान (Heater ke nuksan) भी होते हैं. बंद कमरे में इसका इस्तेमाल करना जान के लिए खतरा हो सकता है. जानिए कैसे.

रूम हीटर के इस्तेमाल के नुकसान (Harmful Effects of using Room Heater)

1. फर्स्टपोस्ट में छपी एक खबर के अनुसार, रूम हीटर या ब्लोअर को रात भर ऑन करके सोने से स्किन की समस्या हो सकती है. नॉन-मेटलिक केस में बंद हीटर लंबे समय तक उपयोग किए जाने पर बाहरी सतह को गर्म कर सकते हैं. यदि आप गलती से भी इसे छू लेते हैं या आपकी स्किन इस पर सट जाती है, तो त्वचा जल सकती है. खासकर, बुजुर्गों और शिशओं की त्वचा. ऐसे में उन्हें इससे दूर ही रखें. रूम में नमी कम होने से स्किन ड्राई हो सकती है. सेंसेटिव स्किन होने पर आपको लाल चकत्ते, इचिंग, जलन हो सकती है. आंखें भी ड्राई हो सकती हैं. साथ ही आप अपने कॉन्टैक्ट लेंस और चश्मा को भी रूम हीटर से दूर रखें, क्योंकि हीटर इनके मॉलीक्युलर कम्पोजिशन को बदल सकते हैं, जिससे कॉर्नियल टिशू के डैमेज होने का रिस्क रहता है.

ये भी पढ़ें: हड्डियों को लोहे जैसा मजबूत बना देंगे ये 4 नॉन-डेयरी फूड्स, कैल्शियम मिलेगा भरपूर, जोड़ों का दर्द भी होगा कम

2. रूम हीटर जब ऑन होता है तो ऑक्सीजन को बर्न करता है और हवा में नमी का स्तर भी इससे कम हो जाता है. चाहे फैन बेस्ड कन्वेक्शन रूम हीटर हो या फिर हैलोजन रूम हीटर दोनों पर ही ये बात लागू होती है. ऑक्सीजन के जलने से ऑक्सीजन के स्तर में भारी गिरावट आती है. ऐसे में यह दम घुटने का कारण भी बन सकता है. अस्थमा, सांस, लंग्स संबंधित समस्या है तो हीटर ऑन करके बंद कमरें में ना सोएं.

3. हीटर, ब्लोअर कार्बन मोनोऑक्साइड छोड़ते हैं, जो प्रकृति में जहरीला होता है. यही कारण है कि इसे लंबे समय तक चालू न रखने की सलाह एक्सपर्ट देते हैं.

4. रूम हीटर ऑन करके कई लोग सो जाते हैं. इससे कई बार बड़ा हादसा हो जाता है. आग लगने का खतरा रहता है. गलती से बेड के पास हीटर, ब्लोअर रखकर सोने से उस पर चादर, कंबल लग जाता है, जिससे आग लग सकती है. रूम हीटर के पास कोई भी पॉलिएस्टर, सैटिन, सिल्क फैब्रिक के कपड़े ना रखें.

संजीवनी बूटी से कम नहीं है ये नेचुरल स्वीटनर, ठंड में खाएंगे तो सेहत को होंगे 6 चौंकाने वाले फायदे, डाइट में करें शामिल

रखें इस बात का ख्याल
-कभी भी रूम हीटर या ब्लोअर के नजदीक ना सोएं.
-कमरे के अंदर थोड़ा सा वेंटिलेशन जरूर बनाकर रखें.
-लगातार रात भर हीटर ना जलाकर सोएं, सेहत को नुकसान होगा.
-रात भर चलाएंगे हीटर तो बिजली बिल भी अधिक आएगा.
-हीटर में काफी देर बैठने के बाद अचानक ठंड में घर से बाहर न जाएं.

Tags: Health, Health tips, Lifestyle

Source link

और भी

Leave a Comment

इस पोस्ट से जुड़े हुए हैशटैग्स