एक महीने शराब छोड़ कर तो देखिए, इतने फायदे होंगे कि यकीन करना हो जाएगा मुश्किल, कैंसर भी शरीर में आने से डरेगा

Gypsy News

Gypsy News

हाइलाइट्स

अत्यधिक शराब पीने से लिवर डिजीज, हाई ब्लड प्रेशर, हार्ट डिजीज सहित कई बीमारियां होती हैं.
शराब छोड़ने के लिए यह जानना जरूरी है कि इससे कितने फायदे होते हैं.

Health Benefits to Quit Drinking Alcohol: शराब बुरी लत है. अत्यधिक शराब पीने के कारण हाई ब्लड प्रेशर, हार्ट डिजीज, स्ट्रोक, लिवर डिजीज, डाइजेशन प्रोब्लम, कई तरह के कैंसर सहित कई बीमारियां होती हैं. ये सब अधिकांश लोग जानते हैं. लेकिन यह सब जानते हुए भी लोग शराब पीते ही हैं. इसका नतीजा यह है कि डब्ल्यूएचओ के आंकड़ों के मुताबिक हर साल करीब 30 लाख लोग शराब पीने की वजह से असमय मौत के शिकार हो जाते हैं. हर साल लोग शराब छोड़ने का प्रण भी लेते हैं. इस साल भी हजारों लोगों ने ऐसा किया होगा. पर ऐसा लोग क्यों नहीं कर पाते हैं. इसका सबसे बड़ा कारण इच्छा शक्ति का अभाव या डेडिकेशन. यदि ये दोनों चीज नहीं है तो आप शराब नहीं छोड़ सकते. पर यकीन मानिए आप सिर्फ एक महीने के लिए शराब छोड़ कर देखिए. इतने तरह के फायदे देखेंगे कि अगले महीने से आप खुद ही शराब से दूरी बना लेंगे.

इन वजहों से आप छोड़ दीजिए शराब

लाइवसाइंस की रिपोर्ट के मुताबिक शराब छोड़ने की कई वाजिब वजहें. शराब ज्यादा पीने से लिवर डैमेज हो जाएगा, ब्लड प्रेशर बढ़ जाएगा और कैंसर का अंदेशा कई गुना ज्यादा हो जाएगा. इन वजहों से भी आपको शराब छोड़ देनी चाहिए. यदि इन वजहों से भी आप शराब नहीं छोड़ रहे हैं तो आगे वैज्ञानिकों का एक अध्ययन समझिए.

ऐसे किया गया प्रयोग

ब्रिटिश मेडिकल जर्नल में प्रकाशित एक रिपोर्ट में बताया गया है कि वैज्ञानिकों ने यह समझने की कोशिश की कि जब कोई व्यक्ति सिर्फ एक महीने तक शराब छोड़ देता है तो उसकी बॉडी पर क्या असर पड़ता है. इसके लिए वैज्ञानिकों ने 94 लोगों पर एक छोटा सा प्रयोग किया. इन लोगों की औसत आयु 45 साल थी. इन लोगों से एक महीने तक शराब को छोड़ देने के लिए कहा गया. दूसरी ओर कुछ लोगों को पहले की तरह कम मात्रा में शराब पीने की छूट दे दी गई. इन लोगों में किसी को भी लिवर या अल्कोहल संबंधी बीमारियां नहीं थी.

शरीर में दिखे हैरान करने वाले फायदे

एक महीने के बाद जब इन लोगों के कई तरह के टेस्ट किए गए तब पाया गया कि शराब को छोड़ देने वालों में ब्लड प्रेशर 6 प्रतिशत तक कम हो गया. इतना ही नहीं, इन लोगों ने सिर्फ एक महीने के अंदर अपना 1.5 किलो वजन घटा लिया. इसके साथ ही इंसुलिन रेजिस्टेंस में 25 प्रतिशत तक कमी आ गई. यानी जिस इंसुलिन रेजिस्टेंस के कारण डायबिटीज का जो खतरा था वह 25 प्रतिशत तक कम हो गया. इस अध्ययन के लेखक और यूनिवर्सिटी कॉलेज ऑफ लंदन के प्रोफेसर डॉ. केविन मूरे ने बताया कि यह रिजल्ट सिर्फ टेस्ट का नहीं था बल्कि इन लोगों ने यह भी बताया कि वे हर मायने में पहले से बेहतर महसूस कर रहे हैं. उन्हें शारीरिक और मानसिक दोनों तरह से फायदा मिला. शराब छोड़ने के बाद व्यक्ति के लाइफस्टाइल में भी सकारात्मक बदलाव आया है और वे पहले के मुकाबले कम सिगरेट पीने लगे और ज्यादा एक्सरसाइज करने लगें. अध्ययन में यह भी पाया गया कि जिस प्रोटीन के कारण शरीर में कैंसर पनपने का अंदेशा रहता है और हार्ट डिजीज होने का जोखिम रहता है उसमें भी 73 प्रतिशत की कमी आ गई.

इसे भी पढ़ें-डायबिटीज के लिए काल तो जोड़ों के दर्द के लिए महा विनाशक है इस सुंदर फूल का पत्ता, विज्ञान भी मान चुका है लोहा

इसे भी पढ़ें-सफेद बाल ने जवानी में ही पर्सनैलिटी पर लगा दिया है धब्बा, आज से शुरू कर दें ये 5 काम, हेयर फॉल का बज जाएगा बैंड

Tags: Health, Health tips, Lifestyle, Trending news

Source link

और भी

Leave a Comment

इस पोस्ट से जुड़े हुए हैशटैग्स