बेटी ने भागकर की थी लव मैरिज, पिता ने 3 साल बाद लिया बदला, दामाद-नतीनी सहित किया मर्डर

Gypsy News

Gypsy News

रिपोर्ट- आशीष रंजन

भागलपुर. खूनी सनक ऐसी कि जिस कलाई पर बहन ने कभी राखी बांधी थी, उसी बहन पर गोलियां चलाते हुए हाथ नहीं कांपे. मंगलवार की शाम बिहार क्रूर-बर्बर तरीके से तीन हत्याओं के हृदय विदारक घटनाक्रम का गवाह बना. मामला नवगछिया पुलिस जिला का है जहां के गोपालपुर थाना क्षेत्र का नवटोलिया गांव में ये घटना हुई.

नवटोलिया निवासी चंदन कुमार (40), उसकी पत्नी चांदनी कुमारी उर्फ चंदा कुमारी और दोनों की पुत्री डेढ़ वर्षीया पुत्री रोशनी कुमारी की एक साथ हत्या कर दी गई. इन तीनों का खून बहाने वाले कोई और नहीं खून का ही रिश्ता था. प्रेम विवाह से नाराज पिता-पुत्र ने मिलकर इस हत्याकांड को अंजाम दिया है. ऐसे में यह ऑनर किलिंग का मामला सामने आया है. चंदा कुमारी के पिता प्रमोद सिंह उर्फ पप्पू सिंह और उसके बेटे धीरज सिंह वहशी दरिंदे के रूप में सामने आये और देखते-देखते तीन जिंदगियों को मौत की नींद सुला दिया.

पप्पू सिंह ने जहां बेटी चंदा व दामाद चंदन पर लोहे के रॉड से प्रहार किया, वही बेटे ने गोलियों की बौछार कर दी. घटना नवगछिया के गोपालपुर थाना क्षेत्र के नवटोलिया गांव की है जहां पिता ने अपनी बेटी, दामाद और नतनी की गोली मार दिनदहाड़े हत्या कर दी. मृतक चंदन कुमार और चंदा देवी ने 2021 में भागकर प्रेम विवाह किया था. इसके बाद इन्हें एक बच्ची भी हुई. कुछ दिन पहले ही लड़का अपनी पत्नी और बच्ची के साथ घर वापस आ गए थे.

जब आरोपी के बेटी-दामाद अपने पुराने घर पर रह रहे मां पिता से मिलकर नए घर जा रहे थे इसी क्रम में चंदा के पिता पप्पू सिंह और भाई धीरज कुमार के द्वारा तीनों की गोली मारकर हत्या कर दी गई. इस मामले में मृतक के भाई का कहना है कि हम लोग घर में ही थे. गोली की आवाज सुनकर देखें तो लड़की का भाई धीरज कुमार गोली चल रहा था और तीनों को गोली मार दी गई. जब तक वह लोग कुछ कर पाते तीनों की मौत हो चुकी थी.

घटना के बाद एसपी नवगछिया सुशांत कुमार सरोज घटनास्थल पर पहुंचे और जांच शुरू कर दी गई. एसपी का कहना है कि लड़की के पिता के द्वारा पहले रॉड से मारा गया और फिर लड़का का भाई आ गया जिसने गोली चला दी जिससे तीनों की मौत हो गई है. एफएसएल की टीम को भी मौके पर बुलाया गया है और आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए टीम बनाकर छापेमारी की जा रही है. नवटोलिया के पप्पू सिंह की बेटी चंदा कुमारी ने गांव के ही सेवानिवृत शिक्षक गणेश प्रसाद सिंह के पुत्र चंदन कुमार से प्रेम विवाह किया था. दोनों एक ही जाति के हैं, बावजूद इसके चंदा के पिता पप्पू सिंह ने इसे प्रतिष्ठा का सवाल बना लिया और इस घटना को अंजाम दिया.

तीनों मृतकों को गोली सिर, पेट, आंख में नजदीक से मारी गयी है. डेढ़ साल की बच्ची रोशनी को आंख में गोली लगी जिससे तीनों की घटनास्थल पर ही मौत हो गयी. इस घटना के बाद से पूरे इलाके के लोग दंग हैं. पुलिस अब पिता-पुत्र की गिरफ्तारी के लिए लगातार छापेमारी कर रही है.

Tags: Bhagalpur news, Bihar News, Honor killing

Source link

और भी

Leave a Comment

इस पोस्ट से जुड़े हुए हैशटैग्स