शेयर मार्केट में पैर रखते ही छा गई ये कंपनी, निवेशकों को करा दिया दोगुना मुनाफा, इंफ्रास्ट्राक्चर से जुड़ी है कंपनी

Gypsy News

Gypsy News

हाइलाइट्स

कंपनी ने अपना इश्यू प्राइज 75 रुपये तय किया था.
इसके शेयरों ने बाजार में पैर 142 रुपये पर रखा.
कुछ ही देर बाद इसमें 5 फीसदी का अपर सर्किट लग गया.

नई दिल्ली. आईपीओ के जरिए शेयर मार्केट में पैसा बनाना आम बात है. लेकिन ऐसा बहुत कम ही होता है जब कोई शेयर बाजार में पैर रखते ही निवशकों को 100 फीसदी से ज्यादा का मुनाफा करा दे. इंफ्रास्ट्रक्चर सेक्टर की Bondada Engineering Ltd ने बिलकुल ऐसा ही कर दिखाया है. कंपनी ने बुधवार को शेयर मार्केट में पदार्पण किया और एंट्री के कुछ देर बाद ही उसके शेयरों में 5 फीसदी का अपर सर्किट लग गया. कंपनी ने अपर सर्किट के साथ अपने निवेशकों को पहले ही दिन इश्यू प्राइज से दोगुना मुनाफा करा दिया.

कंपनी ने अपना इश्यू प्राइज 75 रुपये रखा था. शेयरों की लिस्टिंग बीएसई पर 90 फीसदी की बढ़त के साथ 142.5 रुपये पर हुई. इसके कुछ देर बाद शेयर में 5 फीसदी का अपर सर्किट लगा और 149.62 रुपये तक पहुंचने के बाद शेयरों में ट्रेडिंग रोक दी गई. कंपनी का आईपीओ 18 अगस्त को खुला था. 22 अगस्त तक आईपीओ के लिए बोलीयां स्वीकार की गई थीं. बोनडाडा का आईपीओ 112 गुना सब्सक्राइब हुआ था.

ये भी पढ़ें- गूगल या फेसबुक? कौन देता है ज्यादा सैलरी, अमेजन और माइक्रोसॉफ्ट में से कहां जल्दी मिलता है प्रमोशन, जानिए

किसने कितना किया सब्सक्राइब
खुदरा निवेशकों के लिए रखा गया हिस्सा 100 गुना से अधिक सब्क्राइब हुआ था. वही, गैर-संस्थागत निवेशकों के लिए आरक्षित हिस्सा 115.46 गुना सब्सक्राइब किया गया था. इसी से उम्मीद लगाई जा रही थी कि कंपनी का बाजार में जबरदस्त डेब्यू होने वाला है और ठीक वैसा ही हुआ. इसके शेयरों की फेस वैल्यू 10 रुपये प्रति शेयर है. आईपीओ में निवेश करने के लिए आपको 1600 शेयर खरीदना अनिवार्य था. कंपनी ने फ्रेश इश्यू के तौर पर 56,96,000 शेयर जारी किए थे. आईपीओ की कुल वैल्यू 42.72 करोड़ रुपये थी. इसमें कोई भी शेयर ऑफर फोर सेल के तहत नहीं बेचा गया.

क्या काम करती है कंपनी
बोनडाडा इंजीनियरिंग हैदराबाद की कंपनी है. इसके क्लाइंट्स भारत भर में हैं. यह टेलीकॉम और सोलर एनर्जी इंडस्ट्री में इंजीनियरिंग, प्रोक्योरमेंट और कंस्ट्रक्शन सॉल्यूशन मुहैया कराती है. इसके अलावा कंपनी संचालन और रख-रखाव संबंधी सेवाएं भी मुहैया कराती है. इस आईपीओ के लीड मैनेजर विवरो फाइनेंशियल सर्विसेज प्राइवेट लिमिटेड थी और रजिस्ट्रार KFin टेक्नोलॉजी थी.

Tags: Business news in hindi, Earn money, IPO, Share market, Stock market

Source link

और भी

Leave a Comment

इस पोस्ट से जुड़े हुए हैशटैग्स