Navratri 2023: गर्भवती महिलाएं किस तरह रखें नवरात्रि व्रत? डाइटिशियन ने बताए 5 टिप्स, सेहत नहीं होगी खराब

Gypsy News

Gypsy News

हाइलाइट्स

हेल्थ एक्सपर्ट प्रेग्नेंट महिलाओं को 9 दिनों तक व्रत रखने की सलाह नहीं देते हैं.
गर्भवती महिलाओं को अत्यधिक सावधानी के साथ 9 दिनों तक व्रत रखना चाहिए.

Fasting Tips For Pregnant Women: अक्टूबर का महीना त्योहारों का महीना कहा जा सकता है. इस महीने में तमाम व्रत और त्योहार मनाए जा रहे हैं. अब 15 अक्टूबर से शारदीय नवरात्रि की शुरुआत हो जाएगी. हिंदू धर्म में नवरात्रि के 9 दिनों को बेहद पवित्र और मां दुर्गा की पूजा के लिए समर्पित माना जाता है. नवरात्रि में 9 दिनों तक व्रत रखना भी आम बात है. बड़ी संख्या में लोग इन दिनों में व्रत रखकर पूजा-अर्चना करते हैं. शारदीय नवरात्रि में मौसम ठंडा होने लगता है और इस दौरान मौसमी फ्लू का कहर बढ़ जाता है. ऐसे में व्रत रखते समय कुछ सावधानियां बरतनी चाहिए, ताकि सेहत खराब न हो

कई गर्भवती महिलाएं भी नवरात्रि में 9 दिनों तक व्रत रखती हैं. हालांकि प्रेग्नेंसी में लंबे समय तक कुछ न खाने से तबीयत बिगड़ने की आशंका रहती है. इसलिए हम तो यह सलाह देंगे कि यदि संभव हो तो व्रत न रखें. लेकिन श्रद्धावश रखना ही है तो व्रत के दौरान बेहद सावधानी बरतें. हेल्थ एक्सपर्ट्स की मानें तो व्रत रखना शरीर के लिए फायदेमंद हो सकता है, लेकिन लंबे समय तक व्रत रखना हो, तो समय-समय पर हेल्दी फूड्स का सेवन करना चाहिए और खूब पानी पीना चाहिए. व्रत के दौरान कुछ भी न खाना सेहत के लिए नुकसानदायक हो सकता है. आज आपको बताएंगे कि 9 दिनों तक व्रत रखने का सही तरीका क्या होता है और गर्भवती महिलाएं व्रत में कैसी डाइट लें.

क्या गर्भवती महिलाओं को रखना चाहिए व्रत?

नोएडा के डाइट मंत्रा की फाउंडर और डाइटिशियन कामिनी सिन्हा के मुताबिक नवरात्रि में व्रत रखने से बॉडी डिटॉक्स होती है और आंत रिलैक्स हो जाती हैं. इससे शरीर को कई फायदे होते हैं, लेकिन व्रत के दौरान भूखा नहीं रहना चाहिए. व्रत वाली खाने-पीने की चीजों का सही तरीके से सेवन करना चाहिए. व्रत के दौरान लंबे समय तक भूखा रहने से एसिडिटी, वीकनेस और सिरदर्द की परेशानी हो सकती है. व्रत में पर्याप्त पानी न पीने की वजह से शरीर का इलेक्ट्रोलाइट बैलेंस बिगड़ सकता है, जिससे बचने की जरूरत होती है. व्रत में कुछ न खाने से माइग्रेन भी ट्रिगर हो सकता है. प्रेग्नेंट महिलाओं को नवरात्रि में पूरे 9 दिन व्रत रखने से बचना चाहिए. लंबे समय तक भूखा रहने से उनकी तबीयत बिगड़ सकती है. अगर गर्भवती महिलाएं व्रत रखना चाहती हैं, तो उन्हें पहले अपने डॉक्टर की सलाह लेनी चाहिए. बिना डॉक्टर की सलाह के व्रत नहीं रखना चाहिए.

यह भी पढ़ें- क्या ज्यादा मोबाइल और लैपटॉप चलाने से हो सकते हैं अंधे? डॉक्टर ने बताया सच, वक्त रहते हो जाएं अलर्ट

प्रेग्नेंट महिलाओं का व्रत में कैसा हो डाइट प्लान?

– प्रेग्नेंट महिलाओं को नवरात्रि व्रत के दौरान पर्याप्त मात्रा में पानी पीना चाहिए. उन्हें खुद को हाइड्रेटेड रखना चाहिए. इससे बॉडी में इलेक्ट्रोलाइट बैलेंस बना रहेगा. बीच-बीच में नींबू पानी और कोकोनट वॉटर पीना फायदेमंद रहता है.

– गर्भवती महिलाएं व्रत के दौरान दिन में समय-समय पर फलों का सेवन करें. खाने के बीच स्नैक्स में ड्राई फ्रूट्स ले सकती हैं. इससे शरीर को पोषक तत्वों की सही मात्रा मिलती रहेगी और वीकनेस का खतरा दूर हो जाएगा.

– नवरात्रि में व्रत के दौरान प्रेग्नेंट महिलाएं प्रोटीन रिच फूड्स जैसे- पनीर, दही और बादाम जैसी चीजों का सेवन करें. प्रोटीन को पचने में वक्त लगता है और इससे काफी देर तक पेट भरा हुआ महसूस होता है. प्रोटीन शरीर के लिए जरूरी है.

– व्रत के दौरान ज्यादा देर खाली पेट नहीं रहना चाहिए. हर 2-3 घंटे में कुछ न कुछ खाना चाहिए. ऐसा करने से सिरदर्द, एसिडिटी की प्रॉब्लम से बचाव हो सकेगा और महिलाएं बिना किसी परेशानी के व्रत रख सकेंगी.

– गर्भवती महिलाएं व्रत के दौरान दिन में एक से दो बार दूध पिएं, लेकिन चाय-कॉफी से परहेज करें. ज्यादा ऑयली और तली-भुनी चीजें न खाएं. खाने-पीने की चीजों में नमक जरूर डालें, ताकि शरीर में सोडियम की कमी न हो. किसी भी तरह की परेशानी होने पर तुरंत डॉक्टर से मिलें.

यह भी पढ़ें- दुनिया की बेहद अजीबोगरीब सब्जी, कच्चा खाएंगे तो हो जाएंगे बीमार, पकाकर खाने पर दूर हो जाएंगी कई बीमारियां

Tags: Health, Lifestyle, Navratri, Pregnant Women, Trending news

Source link

और भी

Leave a Comment

इस पोस्ट से जुड़े हुए हैशटैग्स