7 महीने की बच्ची ने खेलते-खेलते मुंह में डाल ली छिपकली, मां करती रही सफाई, फिर…

Gypsy News

Gypsy News

मुस्तफा लकड़ावाला/ राजकोट/सूरत. तीन-चार दिन पहले सूरत से एक चौंकाने वाला मामला सामने आया था. कड़ोदरा इलाके में एक महिला घर में काम कर रही थी, इसी दौरान खेलते समय उसकी 7 महीने की बच्ची ने छिपकली को मुंह में डाल लिया. हालांकि बच्ची का स्वास्थ्य अब स्थिर है, लेकिन ऐसे हालात में बच्ची को नुकसान हो सकता था. उसकी जान को भी खतरा हो सकता है. छिपकली से क्या नुकसान हो सकता है, इसके बारे में राजकोट के वेदांता हॉस्पिटल के क्रिटिकल केयर विशेषज्ञ डॉक्टर मिलन ने जानकारी दी.

डॉ. मिलन ने कहा कि सूरत से जो मामला सामने आया है, उसके बाद हर माता-पिता को अपने बच्चे पर नजर रखनी चाहिए, क्योंकि अगर कोई बच्चा छिपकली या कोई कीड़ा और अन्य चीज निगल ले तो वह मुसीबत में पड़ सकता है. छिपकली के बारे में बात करते हुए उन्होंने कहा कि छिपकली कोई जहरीला जीव नहीं है, लेकिन फिर भी यह बच्चे की सेहत पर असर डाल सकती है.

पेट के अंदर संक्रमण फैलाती है छिपकली
डॉ. मिलन ने कहा कि भले ही छिपकली जहरीली न हो, लेकिन अगर छिपकली द्वारा खाया गया भोजन या छिपकली का मल किसी व्यक्ति या बच्चे के पेट में चला जाता है, तो इससे पेट की समस्या जैसी कई समस्याएं हो सकती हैं. अगर छिपकली आपको काट ले तो ये उतना खतरनाक नहीं होता. हालांकि, छिपकली को निगलने या चबाने के गंभीर परिणाम हो सकते हैं. छिपकलियों में साल्मोनेला बैक्टीरिया होता है, जो हमारे पेट में संक्रमण का कारण बनता है.

हो सकती है मौत
इस संक्रमण के कारण दस्त-उल्टी, डिहाइड्रेशन, बीपी बढ़ना जैसे लक्षण दिखाई देते हैं. अक्सर छिपकली निगलने से इंसान डर जाता है, जिससे अचानक झटका लगने से मौत भी हो सकती है. सूरत की घटना दूसरों के लिए खतरे की घंटी है. बच्चों की सुरक्षा के लिए छिपकलियों को उनसे दूर रखना चाहिए.

Tags: Gujarat, Health, Latest hindi news, Local18, Monitor Lizard, Rajkot news, Surat news

Source link

और भी

Leave a Comment

इस पोस्ट से जुड़े हुए हैशटैग्स