7 बीमारियों का संकेत देती है पैरों की ये टेढे-मेढ़ी विकृति, संकेत दिखने पर इधर-उधर नहीं, कराएं इलाज

Gypsy News

Gypsy News

हाइलाइट्स

डायबिटीज की बीमारी में जब ब्लड शुगर बहुत ज्यादा बढ़ने लगे तो इससे पैरों छाले या फफोले पड़ने लगते हैं.
अगर रूमेटोएड अर्थराइटिस है तो भी इसका संकेत पैरों में दिख सकते हैं.

Feet Can Tell Your Health: पैरों पर हम खड़े रहते हैं. पैरों से ही हम चल-फिर सकते हैं. इसलिए अगर शरीर में कुछ गड़बड़ियां हों तो इसका चुपके से संकेत भी पैर ही दे देते हैं. जी हां, पैरों में कई बीमारियों के संकेत छुपे होते हैं. अगर पैरों में ताकत कम लग रही है तो इसका मतलब है कि आपको डायबिटीज है. इसी तरह अगर आपके पैरों में आकृति टेढ़ी-मेढी हो गई है तो यह लंग्स कैंसर या हार्ट डिजीज का संकेत हो सकता है. इसलिए पैरों की इस टेढ़ी-मेढ़ी विकृति को कभी नजरअंदाज न करें. अगर इस तरह के संकेत दिखें तो तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें.

पैरों में मिले ये संकेत तो तुरंत हो जाएं अलर्ट

1. प्लांटर वार्ट-टीओआई की खबर के मुताबिक प्लांटर वार्ट पैरों में छोटा, खुरदुरा चकत्ते की तरह निकलते हैं. ये आमतौर पर पैरों के तलवे और पीछे वाले भाग में दिखते हैं. प्लांट वार्ट की बीमारी ह्यूमन पेपिलोमावायरस के कारण होता है. अगर आप समझते हैं कि यह अपने आप खत्म हो जाएगा तो ऐसा नहीं है. इसके लिए इलाज की जरूरत होगी.

2. आयरन की कमी-आयरन की कमी के संकेत भी पैरों में दिखते हैं. अगर शरीर में आयरन की कमी हो जाए तो पैरों के अंगूठे के नाखून चम्मच की तरह की आकृति में बदलने लगते हैं. इससे शरीर में आयरन अगर ज्यादा बनने लगे तो भी इसके लक्षण दिख जाएगे.

3. पेरिफेरल आर्टिरियल डिजीज (PAD) -अगर पैरों में या टखनों में बाल कम होने लगे और टखनों का रंग बदलने लगे और स्किन बहुत ज्यादा चमकने लगे तो यह पीएड की लक्षण है. इसमें धमनियां पतली होने लगती है जिसके कारण पैरों तक ब्लड को फ्लो कम हो जाता है. इसका इलाज कराना जरूरी है.

4. लंग्स कैंसर-जब हाथ-पैर की उंगलियां आपस में एक-दूसरे के साथ जुड़ने लगे या पास सटने लगे और स्किन का रंग बदल जाए तो यह लंग्स कैंसर या क्रोनिक लंग्स डिजीज या हार्ट डिजीज के लक्षण हो सकते हैं.

5. डायबिटीज-डायबिटीज की बीमारी में जब ब्लड शुगर बहुत ज्यादा बढ़ने लगे तो इससे पैरों छाले या फफोले पड़ने लगते हैं. इसे डायबेटिक फूट कहते हैं.

6. अर्थराइटिस– अगर रूमेटोएड अर्थराइटिस है तो भी इसका संकेत पैरों में दिख सकते हैं. इस बीमारी में पैरों के नीचे यानी तलवे में घाव की तरह निकल आते हैं.

7. बुनियोंस-बुनियोंस में पैरों की उंगलियां बहुत ज्यादा टेढ़ी-मेढी हो जाती है. इसें पैरों का अंगूठे बाएं की तरफ निकल आते हैं और यह उंगलियों पर फैलने लगता है. इसमें बंप्स निकल आते है या स्वेलिंग भी हो सकता है. इस बीमारी में पैरों से किसी चीज पर ताकत लगाने में बैलेंस बिगड़ जाता है. अंगूठे में कोर्न भी निकल आते हैं. इसलिए इसका इलाज समय पर जरूरी है.

इसे भी पढ़ें-क्या विटामिन डी की कमी से होता है कैंसर? वैज्ञानिक सुलझा रहे हैं गुत्थी, पर इस घातक बीमारी से है खास रिश्ता

इसे भी पढ़ें-बेकार हो रहे हैं परेशान, किचन में ही मौजूद है फैट बर्नर चीज, मजे-मेज में इस तरह कीजिए तूफानी, झटपट गायब होगी पेट की चर्बी

Tags: Health, Health tips, Lifestyle

Source link

और भी

Leave a Comment

इस पोस्ट से जुड़े हुए हैशटैग्स