‘वरदान’ है ये औषधीय पौधा, चेहरे की झुर्रियों से लेकर जोड़ों के दर्द का रामबाण! कई बीमारियों का भी दुश्मन

Gypsy News

Gypsy News

अर्पित बड़कुल/दमोह: मध्य प्रदेश के बुंदेलखंड इलाके में आज भी लोग पुरानी परंपरा रीतिरिवाजों से तालुकात रखते हैं. यही वजह है कि दमोह जिले के ज्यादातर घरो के बाहर अशोक का पेड़ दिखाई पड़ता है. वहीं हिंदू शास्त्रों में अशोक के पेड़ का विशेष महत्व बताया गया है.

अशोक का पेड़ लगाने से घर से नकारात्मक ऊर्जा दूर भागती है. जिस घर में अशोक का पेड़ होता है, वहां शांति, खुशहाली और सुख संपदा का वास होता है. इस पेड़ के पत्तों के उपाय से पति-पत्नी के बीच प्यार भी बढ़ता है.

आयुर्वेद में है विशेष महत्व
वहीं आयुर्वेद की दृष्टि से अशोक का पेड़ एक औषधीय पौधा है, जिसके पत्तों का उपयोग लेप बनाकर करने से जोड़ो का दर्द, चेहरे की झुर्रियां को कम करने के लिए फायदेमंद होता है. यह औषधि पौधा मुंहासो को ठीक करने में मददगार है. इतना ही नहीं डायबिटीज के मरीज इसके पत्तों का सेवन करते हैं तो उनको भी फायदा होता है.

 महिलाओं के लिए है वरदान
आयुर्वेद चिकित्सा डॉ दीप्ति नामदेव ने बताया कि अशोक के पौधे की पत्तियों का सेवन करने से डायबिटीज बीमारी से छुटकारा मिलता है. इसके अलावा महिलाओं की त्वचा सम्बंधी उपचार चेहरे की सुंदरता, घुटनों के जोड़ो में दर्द और महिलाओं के लिए यह औषधि पौधा किसी वरदान से कम नहीं है.

Tags: Damoh News, Health News, Local18, Madhya pradesh news

Source link

और भी

Leave a Comment

इस पोस्ट से जुड़े हुए हैशटैग्स