इस पेड़ का फल ही नहीं पत्तियां भी हैं चमत्कारी, डेंगू और मलेरिया के लिए है रामबाण इलाज

Gypsy News

Gypsy News

सौरभ वर्मा/रायबरेली. औषधीय पौधे की तलाश में तो हर इंसान रहता है, लेकिन जानकारी के अभाव में कई बार आंखों के सामने होते हुए औषधि हमे दिखाई नहीं देती. खास कर अगर बात की जाए औषधीय गुणों वाले पेड़-पौधों की, तो बहुत कम लोग ऐसे होते हैं, जिन्हें साधारण और घरों के आसपास मिलने वाले पेड़-पौधों और उनके औषधीय इस्तेमाल के बारे में सटीक जानकारी होती है. आज हम आपको एक ऐसे ही औषधीय पौधे की जानकारी देंगे, जो बेहद ही आसानी से मिल जाता है और कई बीमारियों के इलाज के लिए रामबाण औषधि होता है. इस पौधे का फल ही नहीं उसकी पत्तियां भी हमारे स्वास्थ्य के लिए बेहद लाभदायक है.

दरअसल, हम बात कर रहे हैं पपीते के पौधे की जिसका फल हमारे लिए लाभदायक तो है ही साथ में इसकी पत्तियां भी हमारे लिए बेहद लाभदायक है. आयुर्वेदिक चिकित्सक स्मिता श्रीवास्तव के मुताबिक पपीते के हरी पत्तियों में विटामिन ए, विटामिन सी, विटामिन ई, विटामिन बी1, प्रोटीन, मैंगनीज, फॉस्फोरस, आयरन जैसे अनगिनत पोषक तत्व होते हैं. साथ ही पपीते के अर्क में आवश्यक बायो एक्टिव कंपाउंड होते हैं जैसे पपेन, कायमोपोपीन और कैरीकेन जो डेंगू बुखार के प्रभाव को कम करने में मददगार साबित हो सकता है. इसका सेवन करने से हमारे शरीर की प्लेटलेट्स भी बढ़ती हैं.

ऐसे करें सेवन
रायबरेली की आयुर्वेदिक चिकित्सक डॉ. स्मिता श्रीवास्तव बताती हैं कि आयुर्वेद में भी पपीते के पत्तों का जूस पीने से मिलने वाले फायदों के बारे में बताया गया है. पपीते की पत्तियां न सिर्फ प्लेटलेट्स काउंट बढ़ाने में मदद करते हैं, बल्कि डेंगू के लक्षणों व खून को स्वस्थ बनाने में मदद करते हैं.पपीते के पत्तियों को अच्छी तरह पानी में धोकर इन्हें जूसर में पीस लें, इसके बाद इसका सेवन करें. जिससे आपकी प्लेटलेट्स बढ़ेगी साथ ही सीने में जलन खट्टी डकार आना अपच महसूस होना जैसी समस्याएं भी दूर होगी. आपका लीवर भी सही रहेगा. इसका सेवन करने से हमारे शरीर का कोलेस्ट्रॉल भी कंट्रोल रहता है. साथ ही पीलिया लिवर सिरासिस जैसी बीमारियों के लिए भी यह कारगर है.

Disclaimer: इस खबर में दी गई दवा/औषधि और हेल्थ बेनिफिट रेसिपी की सलाह, हमारे एक्सपर्ट्स से की गई चर्चा के आधार पर है. यह सामान्य जानकारी है न कि व्यक्तिगत सलाह. हर व्यक्ति की आवश्यकताएं अलग हैं, इसलिए डॉक्टर्स से परामर्श के बाद ही किसी चीज का इस्तेमाल करें. कृपया ध्यान दें, Local-18 की टीम किसी भी उपयोग से होने वाले नुकसान के लिए जिम्मेदार नहीं होगी.

Tags: Health News, Life18, Local18, Rae Bareli News, Uttar Pradesh News Hindi

Source link

और भी

Leave a Comment

इस पोस्ट से जुड़े हुए हैशटैग्स