इस साधारण पेड़ का पत्ता भी है औषधि…यूरिक एसिड और कोलेस्ट्रॉल करता है कंट्रोल, ऐसे करें सेवन

Gypsy News

Gypsy News

सौरभ वर्मा/ रायबरेली : यूरिक एसिड का बढ़ना सेहत के लिए काफी खराब माना जाता है. शरीर में जब यूरिक एसिड बढ़ने लगता है वैसे ही इसका हमारे शरीर पर बुरा प्रभाव भी दिखना शुरू हो जाता है. यूरिक एसिड बढ़ने से कुछ लोगों के जोड़ों में अकड़न की समस्या आ जाती है, उनके हाथ-पैर में दर्द शुरू हो जाता हैं, जबकि कुछ लोगों के पैरों में सूजन, थकान या एड़ियों में दर्द होने लगता है अगर आप भी बढ़े हुए यूरिक एसिड से परेशान हैं तो ये खबर आपके लिए खास है . आज हम आपको एक ऐसे आयुर्वेदिक औषधि के बारे में बताने जा रहे हैं. जिसका उपयोग करने से आपका बढ़ा हुआ यूरिक एसिड नॉर्मल हो जाएगा साथ ही आपका कोलेस्ट्रॉल लेवल भी कंट्रोल हो जाएगा.

अमरूद एक ऐसा फल है जो बहुत आसानी से मिल जाता है लेकिन लोग इसे साधारण फल मानकर इसके फायदे अनदेखा कर देते है . अमरूद में मिलने वाले गुणों के कारण इसे सुपरफ्रूट भी माना जाता है. संक्रामक रोगों से रक्षा करने और मुंह से जुड़ी बीमारियों के लिए डॉक्टर आमतौर पर लोगों को अमरूद खाने की सलाह देते हैं. इसमें विटामिन-सी की अच्छी मात्रा पाई जाती हैं जो शरीर में इम्यूनिटी बढ़ाती है. इसके अलावा, अमरूद में कैलोरी कम होती है और फाइबर अधिक होता है. अमरूद की हरी पत्तियों को कच्चा चबाना शरीर के लिए काफी अच्छा माना जाता है. सुबह खाली पेट इसका सेवन करने से आपका बढ़ा हुआ यूरिक एसिड भी कम होगा. साथ ही आपका कोलेस्ट्रॉल लेवल भी कंट्रोल रहेगा.

इन रोगों के लिए रामबाण इलाज
आयुर्वेदिक चिकित्सक स्मिता श्रीवास्तव के मुताबिक अमरूद की पत्तियां बहुत फायदेमंद होती हैं. अमरूद की पत्तियों में कई ऐसे औषधीय गुण पाए जाते हैं जो आपके सेहत के लिए फायदेमंद हैं. कोलेस्ट्रॉल लेवल कम करना हो या फिर वजन अमरूद के पत्ते इन सभी का रामबाण इलाज हैं. अमरूद के पेड़ में ऐसे तत्व पाए जाते हैं जो यूरिक एसिड को कम करने करने में सहायक होते हैं. सुबह खाली पेट हमें इसका प्रतिदिन सेवन करना चाहिए.

इन गुणों से होता है भरपूर
चिकित्सक स्मिता श्रीवास्तव के मुताबिक अमरूद की पत्तियां दवा के रूप में काम करती हैं, जो शरीर को नुकसान पहुंचाए बिना ही आपकी सेहत की देखभाल करती है. अमरूद की हरी पत्तियों में एंटीऑक्सीडेंट, जीवाणुरोधी और एंटीइंफ्लेमेटरी गुण पाए जाते है . इसके साथ ही इन पत्तियों में पॉलीफेनोल, कैरोटेनॉइड, फ्लेवोनोइड और टैनिन नाम का रसायन पाया जाता है, जो विभिन्न बीमारियों के इलाज में कारगर साबित होता है.

ऐसे करें अमरूद की पत्तियों का सेवन
डॉ. स्मिता श्रीवास्तव बताती हैं कि ताजा और मुलायम अमरूद के पत्ते का सुबह सेवन करने से बढ़ा हुआ यूरिक एसिड को नॉर्मल हो जाता है. इसके पत्ते को उबालकर आप इसका पानी पी सकते हैं या फिर आप सुबह खाली पेट मुलायम पत्तों का सेवन करें जिससे आपको यूरिक एसिड की समस्या से राहत मिल जाएगी.

Disclaimer: इस खबर में दी गई दवा/औषधि और हेल्थ बेनिफिट रेसिपी की सलाह, हमारे एक्सपर्ट्स से की गई चर्चा के आधार पर है. यह सामान्य जानकारी है न कि व्यक्तिगत सलाह. हर व्यक्ति की आवश्यकताएं अलग हैं, इसलिए डॉक्टर्स से परामर्श के बाद ही किसी चीज का इस्तेमाल करें. कृपया ध्यान दें, Local-18 की टीम किसी भी उपयोग से होने वाले नुकसान के लिए जिम्मेदार नहीं होगी.

Tags: Health News, Life18, Local18, Rae Bareli News, Uttar Pradesh News Hindi

Source link

और भी

Leave a Comment

इस पोस्ट से जुड़े हुए हैशटैग्स