सेहत का खजाना है बादाम, जानें सर्दियों में इस ड्राई फ्रूट को खाने का सही तरीका

Gypsy News

Gypsy News

सोनिया मिश्रा/ चमोली. यदि आप अपनी डाइट को संतुलित बनाना चाहते हैं. तो ड्राई फ्रूट्स से बेहतर कोई और ऑप्शन नहीं है. ऐसा इसलिए कहा जाता है क्योंकि ड्राई फ्रूट्स पोषक तत्वों से भरपूर होता है.ड्राई फ्रूट्स की तासीर गर्म होती है, इसलिए सर्दियों में लोग इनका सेवन ज्यादा करते हैं. कई लोग ड्राई फ्रूट्स को भिगोकर खाते हैं जबकि कुछ लोग इन्हें कच्चा खाना पसंद करते हैं. वही कुछ ड्राई फ्रूट्स जैसे बादाम को लोग भूनकर खाते हैं.आज हम कुछ ऐसे फैक्ट्स के बारे में बात करेंगे जो उन लोगों को पता होनी चाहिए जो रोजाना खाली पेट ड्राई फ्रूट्स खाते हैं.

वैसे तो बादाम (Almond Benefits) के अनगिनत फायदे हैं. कई लोग इसे मोटापे का कारण समझते हैं लेकिन रिसर्च में यह बात साबित नहीं होती. दरअसल आधुनिक जीवन शैली के चलते विश्वभर में मोटापे की समस्या बढ़ती जा रही है. जिसका कारण अधिकतर लोग बादाम को समझते हैं. लेकिन इसी बीच साउथ ऑस्ट्रेलिया यूनिवर्सिटी की डॉ. शाराया कार्टर ने एक नए शोध में दावा किया है कि यह न सिर्फ मोटापा कम करने में सहायक है बल्कि कार्डियो मेटाबोलिक स्वास्थ्य में भी सुधार करता है.

उत्तराखंड के चमोली जिले के गौचर अस्पताल में तैनात डॉ .रजत बताते हैं कि बादाम में विटामिन ई की अच्छी मात्रा होती है, जो रेड ब्लड सेल्स की मात्रा बढ़ाता है. साथ ही कोलेस्ट्रॉल लेवल को भी कम करता है. जिस वजह से बादाम कोलेस्ट्रॉल मरीजों में लिए काफी फायदेमंद है.

मेमोरी शार्प करता है बादाम
डॉ. रजत बताते हैं कि बादाम में विटामिन ई की भरपूर मात्रा होती है, जिस कारण यह आंखों में लिए काफी फायदेमंद है. साथ ही इसमें फ्लेवोनोइड पाए जाते हैं, जो शरीर में समय के साथ होने वाले बदलावों को कम करता है और स्किन अच्छी रखता है. बादाम में राइबोफ्लेविन नाम का कंपाउंड पाया जाता है, जो ब्रेन सेल्स की ग्रोथ में मदद करता है. इसी कारण कहते हैं कि यह मेमोरी शार्प करने में भी मदद करता है.

ऐसे करें बादाम का इस्तेमाल
हेल्‍थ एक्‍सपर्ट बादाम को रोजाना रात में पानी में भिगोकर सुबह छिलका उतारकर या छिलके के साथ खाने की सलाह देते हैं. मौसम चाहे कोई भी हो, बादाम भिगोकर खाना फायदेमंद है, लेकिन कई लोग बादाम को भूनकर भी खाते हैं. इस बारे डॉक्टर्स कहते हैं कि बादाम को भूनकर खाना दवा के समान है. अगर किसी बच्‍चे को सर्दी और खांसी हो रही है, तो रात में दो बादाम तवे पर तब तक भूनें जब तक कि वह फुल न जाएं.इसके बाद बच्चे को खाने के लिए दें. वहीं अगर बच्‍चा नवजात है या इतना छोटा है कि बादाम चबाकर नहीं खा सकता, तो उसे बादाम भूनकर और हल्‍के दूध में घोलकर भी दे सकते हैं. हालांकि बादाम भूनकर सिर्फ दवा के रूप में ही खाने चाहिए. अगर सामान्‍य रूप से बादाम खाने हैं, तो भिगोकर खाना सही है.

Disclaimer: इस खबर में दी गई दवा/औषधि और हेल्थ बेनिफिट रेसिपी की सलाह, हमारे एक्सपर्ट्स से की गई चर्चा के आधार पर है. यह सामान्य जानकारी है न कि व्यक्तिगत सलाह. हर व्यक्ति की आवश्यकताएं अलग हैं, इसलिए डॉक्टर्स से परामर्श के बाद ही कोई चीज उपयोग करें. कृपया ध्यान दें, Local 18 की टीम किसी भी उपयोग से होने वाले नुकसान के लिए जिम्मेदार नहीं होगी.

Tags: Chamoli News, Health News, Life18, Local18, Uttarakhand news

Source link

और भी

Leave a Comment

इस पोस्ट से जुड़े हुए हैशटैग्स