इस पौधे की पत्तियों का सेवन…खांसी को दूर भगाए, रोजाना सेवन शरीर में लाए घोड़े जैसी फुर्ती

Gypsy News

Gypsy News

मनीष पुरी/भरतपुर हमारे भारत में विभिन्न प्रकार के औषधीय पौधे पाए जाते हैं. जो हमारे शरीर के लिए काफी फायदेमंद है. इन्हीं में से एक है आतिबला. आइए जानते हैं आयुर्वेदिक डॉक्टर चंद्र प्रकाश दीक्षित से अतिबला के बारे में. अतिबला एक पीले फूल वाला एक बेहद ही सुंदर पौधा होता है. इसके पत्तों का स्वाद हल्का तीखा व कड़वा होता है. इसे देश में कई अन्य नामों से भी जाना जाता है. अतिबला पौधे में अनगिनत स्वास्थ्यवर्धक गुण पाए जाते हैं.

इस पौधे को हजारों सालों से आयुर्वेद में कई प्रकार की दवाएं बनाने के लिए इस्तेमाल किया जा रहा है. अतिबला पौधे के पत्तों, फूल और बीज में कई अलग-अलग प्रकार के स्वास्थ्यवर्धक गुण पाए जाते हैं. इसलिए इसका इस्तेमाल एक घरेलू उपचार के रूप में भी किया जाता है. आजकल मार्केट में भी अतिबला के पत्तों का चूर्ण भी मिल जाता है.

शरीर में इंसुलिन बनाने के आता है काम
डॉक्टर चंद्रप्रकाश दीक्षित बताते हैं कि अतिबला के बीजों में बवासीर के लक्षणों को कम करने वाले गुण होते हैं. इसके अलावा इनका सेवन करने से घाव जल्दी से जल्दी ठीक हो जाते हैं और दर्द भी कम हो जाता है. अतिबला शरीर में जाकर एक एंटीडायबिटिक कंपाउंड का काम करता है. इसके पत्तों का सेवन करने से शरीर इंसुलिन बनाने के लिए उत्तेजित हो जाता है, जिससे रक्त में शर्करा का स्तर कम हो जाता है. इसके अलावा इस औषधि का प्रतिदिन सेवन करने से आपके शरीर में जान आएगी और घोड़े जैसी फुर्ती रहेगी.

यह भी पढ़ें : दांत के दर्द और मुंह की बदबू को हमेशा के लिए गायब कर देगा यह फूल, बस ऐसे कर लें इस्तेमाल

पथरी को रोकने में भी सहायक
आयुर्वेद के अनुसार अतिबला के पत्तों व जड़ों में खास प्रकार के गुण होते हैं. जिनसे पथरी होने की समस्या कम हो जाती है. अतिबला में बलगम को पतला करने वाले गुण भी पाए जाते हैं. इसका सेवन करने से खांसी के साथ अंदर जमी बलगम बाहर निकल जाती है और रोग का जड़ से इलाज हो जाता है. अतिबला से प्राप्त होने वाले उपरोक्त लाभ प्रमुख रूप से पारंपरिक चिकित्सा विधियों और कुछ अध्ययनों पर आधारित हैं. क्योंकि इसका प्रभाव हर व्यक्ति के शरीर पर अलग-अलग हो सकता है.

इस के अलावा अतिबला के नुकसान भी होते हैं. अतिबला का एक दवा के रूप में सेवन करना आमतौर पर सुरक्षित रहता है. लेकिन इसका अधिक मात्रा में इस्तेमाल करने से यह शरीर में विषाक्त प्रभाव पैदा कर सकता है. इससे निम्न प्रकार की स्वास्थ्य समस्याएं हो सकती हैं.

Disclaimer: इस खबर में दी गई दवा/औषधि और हेल्थ बेनिफिट रेसिपी की सलाह, हमारे एक्सपर्ट्स से की गई चर्चा के आधार पर है. यह सामान्य जानकारी है, न कि व्यक्तिगत सलाह. हर व्यक्ति की आवश्यकताएं अलग हैं, इसलिए डॉक्टर्स से परामर्श के बाद ही, कोई चीज उपयोग करें. कृपया ध्यान दें, Local-18 की टीम किसी भी उपयोग से होने वाले नुकसान के लिए जिम्मेदार नहीं होगी.

Tags: Bharatpur News, Health, Local18, Rajasthan news

Source link

और भी

Leave a Comment

इस पोस्ट से जुड़े हुए हैशटैग्स