Clove is effective in everything from periods to infertility, know the right way of consumption from the doctor. – News18 हिंदी

Gypsy News

Gypsy News

गुलशन कश्यप, जमुई :मां बनना लगभग हर महिला की ख्वाहिश होती है. लेकिन आज के भाग दौड़ भरे लाइफस्टाइल के कारण महिलाओं की फर्टिलिटी पर काफी बुरा असर पड़ रहा है. इस कारण कई प्रयास के बावजूद महिलाएं मां नहीं बन पाती है या गर्भधारण करने में उन्हें कई प्रकार की समस्या होती है. इतना ही नहीं महिलाओं को पीरियड्स में भी काफी परेशानियों का सामना करना पड़ता है और कई महिलाओं की यह शिकायत होती है कि उन्हें नियमित पीरियड्स नहीं होते हैं. आज हम आपको एक ऐसा नुस्खा बताने जा रहे हैं जिसमें मात्र 5 से 10 रुपये के खर्चे में आप बांझपन से लेकर माहवारी (पीरियड्स) तक में आने वाली दिक्कतों को दूर कर सकती हैं.

लौंग का पानी पीने से दूर हो जाएगी कई परेशानियां
आयुष चिकित्सक डॉ. रास बिहारी तिवारी बताते हैं कि लौंग एक बहुत अच्छा एंटीऑक्सीडेंट है और यह हमारी इम्यूनिटी को तो मजबूत करता ही है, यह महिलाओं के लिए काफी लाभकारी है. अगर महिलाएं प्रतिदिन सुबह खाली पेट और रात को सोने से पहले एक गिलास लौंग का पानी पिएं तो यह कई प्रकार के फायदे पहुंचा सकता है. लौंग का पानी पीने से महिलाओं के पीरियड्स नियमित होते हैं. उन्होंने बताया कि पीरियड्स न होने की वजह से कई समस्याएं पैदा हो सकती हैं. जैसे महिला गर्भधारण नहीं कर सकती, उनका शरीर अस्वस्थ रहता है और इन दिक्कतों से बचने के लिए लड़कियों और महिलाओं को नियमित लौंग का सेवन करना चाहिए.

इतना ही नहीं यह ओवुलेशन को भी बढ़ता है, जिससे गर्भधारण की संभावना बढ़ जाती है. लौंग के पानी से महिलाओं के बांझपन से भी मुक्ति मिल सकती है. इसके लिए वह चाहे तो दूध में भी लौंग डालकर इसका इस्तेमाल कर सकती हैं. चिकित्सक डॉ. तिवारी ने बताया कि इस दौरान कई बातों का ख्याल रखने की आवश्यकता है, क्योंकि अत्यधिक मात्रा में लौंग का इस्तेमाल करने से कुछ नुकसान भी हो सकते हैं. मुंह में जलन हो सकती है, मसूड़े में दिक्कत हो सकती है. अगर जिसे लौंग से एलर्जी है उसे इसका का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए.

इस तरीके से तैयार करें लौंग का पानी
आयुष चिकित्सक डॉ. रासबिहारी तिवारी बताते हैं कि एक कांच के गिलास में गर्म पानी में करीब आधी मुट्ठी लौंग डालकर उसे पूरी रात पानी में भिगो कर रखें. अगली सुबह लौंग को और अच्छी तरह से उबाल लें. अगर जरूरत पड़े तो उसमें और पानी डालें तथा उसे बढ़िया से उबाल लें. करीब 15 मिनट पानी को उबालने के बाद जब पानी का रंग गाढ़ा हो जाए तब गैस को बंद कर दें. ठंडा होने पर उसे पानी को छलनी की मदद से छान ले और उस पानी का इस्तेमाल सुबह शाम करना चाहिए.

अगर लौंग को पानी में उबालने का मन नहीं हो तो रात भर जिस पानी में लौंग को भिगोकर रखा था, उस पानी को भी पिया जा सकता है. लेकिन,ध्यान रखना है कि उस पानी का इस्तेमाल अत्यधिक मात्रा में नहीं किया जाए नहीं तो पेट में जलन या दूसरी परेशानियां भी सामने आ सकती है.

Disclaimer: चिकित्सा, स्वास्थ्य संबंधी नुस्खे, योग, धर्म, ज्योतिष, वास्तु, फेंगशुई आदि विषयों पर आलेख अथवा वीडियो समाचार सिर्फ पाठकों/दर्शकों की जानकारी के लिए है. इनसे संबंधित किसी भी प्रयोग से पहले विशेषज्ञ की सलाह जरूरी है. हमारा उद्देश्य पाठकों/दर्शकों तक महज सूचना पहुंचाना है. इसके अलावा, इसके किसी भी उपयोग की जिम्मेदारी स्वयं उपयोगकर्ता की होगी. Local 18 इन तथ्यों की पुष्टि नहीं करता है.

Tags: Health tips, Local18, Period, Woman

Source link

और भी

Leave a Comment

इस पोस्ट से जुड़े हुए हैशटैग्स