मनीष सिसोदिया – News18 हिंदी

Gypsy News

Gypsy News

सीबीएसई (CBSE) की बढ़ी फीस मामले में दिल्‍ली सरकार (Delhi Government) ने 10वीं और 12वीं के छात्र-छात्राओं को राहत दी है. अगले साल होने जा रहीं बोर्ड परीक्षाओं के लिए बढ़ी बोर्ड परीक्षा फीस (Board Exam fee) का बोझ अब छात्रों के माता-पिताओं की जेब पर नहीं होगा. बल्कि दिल्‍ली सरकार अब इस फीस का भुगतान करेगी.

दिल्‍ली के शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया (Manish Sisodia) ने कहा कि दिल्‍ली सरकार सभी छात्रों का परीक्षा शुल्‍क देगी. यह राहत सिर्फ सरकारी स्‍कूल ही नहीं बल्कि मान्‍यता प्राप्‍त स्‍कूलों में पढ़ने वाले छात्र-छात्राओं को भी मिलेगी. इससे पहले केजरीवाल ने सीबीएसई की ओर से दोगुने किए गए बोर्ड परीक्षा शुल्‍क पर नाराजगी जताई थी.

सिसोदिया ने कहा कि उन्होंने शिक्षा विभाग को एक फार्मूले के तहत काम करने का निर्देश दिया है, ताकि छात्रों पर फीस का बोझ न पड़े. इस संबंध में शिक्षा निदेशालय (DoE) ने एक प्रस्‍ताव तैयार किया है. जिसके तहत बोर्ड परीक्षा फीस दिल्‍ली सरकार देगी.

सीबीएसई ने 24 गुना बढ़ाया बोर्ड परीक्षा शुल्‍क
गौरतलब है कि सीबीएसई (central board of secondary education) ने 24 गुना बोर्ड परीक्षा फीस बढ़ाई है. अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति के छात्रों की पांच विषयों के लिए फीस 50 रुपये से बढ़ाकर 1,200 रुपये की गई है. ऐसे में कहा जा रहा है कि सीबीएसई ने 24 गुना फीस बढ़ा दी है. इससे पहले सीबीएसई द्वारा दिल्ली में अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति के छात्रों से 350 रुपये शुल्क लिया जाता था. जिसमें 300 रुपए का भुगतान दिल्ली सरकार करती थी और बाकि बचे 50 रुपए छात्रों द्वारा दिया जाता था.

वहीं सभी छात्रों की फीस 750 रुपए से बढ़ा कर 1500 रुपए कर दी गई है. हालांकि सीबीएसई इस बारे में सफाई दे चुका है कि उसने पांच साल बाद यह फीस बढ़ाई है. इसके साथ ही दिल्‍ली कैबिनेट ने ऑटो की फिटनेस फीस माफ कर दी है. वहीं सिम कार्ड फीस और gps चार्ज भी माफ किए गए हैं.

ये भी पढ़ें

रक्षाबंधन पर डीटीसी बसों में बहनों को मुफ्त सफर का तोहफा

रेप से जन्‍मा बच्‍चा? सच जानने को कब्र से निकाला जाएगा शव

Tags: Cbse, CBSE Board Exam Datesheet, Delhi, Manish sisodia

Source link

और भी

Leave a Comment

इस पोस्ट से जुड़े हुए हैशटैग्स