Indian Air Force Day 2023: वायुसेना को मिलेगा नया ध्वज, MIG-21 भरेगा आखिरी उड़ान…जानें आज के IAF डे परेड में क्या-क्या होगा

Gypsy News

Gypsy News

प्रयागराज: भारतीय वायु सेना आज अपना 91वां स्थापना दिवस (IAF 91st Anniversary) मना रही है. भारत में ब्रिटिश शासन के दौरान 8 अक्टूबर, 1932 को ‘रॉयल ​​इंडियन एयर फोर्स’ के रूप में इंडियन एयरफोर्स अस्तित्व में आई. इस दिन, बल भव्य परेड करता है, IAF कर्मियों को सम्मानित करता है, और देश भर में एयर शो आयोजित करता है. इस वर्ष, भारतीय वायुसेना दिवस की थीम ‘IAF – एयरपावर बियॉन्ड बाउंड्रीज’ है, जो उत्कृष्टता, नवाचार के प्रति बल की प्रतिबद्धता और देश के आसमान के संरक्षक के रूप में इसकी भूमिका पर प्रकाश डालती है.

प्रयागराज में वायु सेना दिवस परेड में नई ध्वज पताका का अनावरण
भारतीय वायुसेना अपने मूल्यों को बेहतर ढंग से प्रतिबिंबित करने के लिए प्रयागराज में वार्षिक वायु सेना दिवस परेड में अपने नए ध्वज का अनावरण करेगी. इस बार का वायु सेना दिवस प्रयागराज के बमरौली एयरफोर्स स्टेशन में मनाया जा रहा है. भारतीय वायु सेना का यह कदम नौसेना द्वारा अपने औपनिवेशिक अतीत को त्यागकर अपने ध्वज में बदलाव करने के एक साल से अधिक समय बाद आया है. नई पताका में सबसे ऊपर दाएं कोने में भारतीय वायुसेना का क्रेस्ट होगा.

IAF डे परेड की कमान पहली बार एक महिला अधिकारी संभालेगी
यह पहली वायु सेना दिवस परेड है जिसकी कमान एक महिला अधिकारी ग्रुप कैप्टन शालिजा धामी के हाथों में है. वह कॉम्बैट यूनिट की कमान संभालने वाली भारतीय वायुसेना की पहली महिला अधिकारी भी हैं. परेड में पहली बार, पूरी तरह से महिलाओं की टुकड़ी होगी, जिसमें नई रिक्रूट हुई अग्निवीर वायु महिलाएं शामिल होंगी, जो अपने पुरुष समकक्षों के साथ कंधे से कंधा मिलाकर मार्च करेंगी.

Indian Air Force Day 2023: वायुसेना को मिलेगा नया ध्वज, MIG-21 भरेगा आखिरी उड़ान...जानें आज के IAF डे परेड में क्या-क्या होगा

भारतीय वायु सेना दिवस परेड में मिग-21 जेट की अंतिम उपस्थिति
रूसी मूल के मिग-21 जेट 8 अक्टूबर को वार्षिक वायु सेना दिवस परेड में आखिरी बार भाग लेने के लिए तैयार हैं, साथ ही भारतीय वायुसेना इस विमान के शेष तीन स्क्वाड्रन को चरणबद्ध तरीके से हटाने की प्रक्रिया शुरू कर रही है. वायुसेना प्रमुख एयर चीफ मार्शल वीआर चौधरी ने मंगलवार को कहा कि स्वदेश में विकसित तेजस मार्क-1ए विमान 2025 से मिग-21 की जगह लेगा. वर्तमान में, भारतीय वायु सेना (IAF) के पास तीन मिग-21 स्क्वाड्रन हैं जिनमें कुल लगभग 50 विमान हैं.

वायु सेना दिवस समारोह में भाग लेंगे 100 से अधिक लड़ाकू विमान
भारतीय वायु सेना (IAF) उत्तर प्रदेश के प्रयागराज में संगम क्षेत्र में एक मेगा एयर शो आयोजित करेगी. ग्रुप कैप्टन प्रज्योत ने मंगलवार को घोषणा की कि 10 एयरबेसों से राफेल लड़ाकू जेट और हेलीकॉप्टर सहित 120 लड़ाकू जेट और परिवहन विमान इस अवसर पर हवाई प्रदर्शन में भाग लेंगे. दो पुराने विमान – हार्वर्ड और टाइगरमोथ – संगम तट पर लव और कुश फॉर्मेशन में उड़ान भरेंगे. परेड में पहली बार भारतीय वायुसेना के गरुड़ कमांडो की उड़ान भी दिखेगी. गरुड़ ने हाल ही में राष्ट्र की सेवा के 20 वर्ष पूरे किए हैं. (एजेंसी इनपुट्स के साथ)

Tags: IAF, Indian Airforce, MIG-21

Source link

और भी

Leave a Comment

इस पोस्ट से जुड़े हुए हैशटैग्स