PM Narendra Modi Mann Ki Baat boosts awareness and adoption of government schemes- PM मोदी के ‘मन की बात’ से कई योजनाओं और सामाजिक मुद्दों को मिली लोकप्रियता: IIM-बेंगलुरु – News18 हिंदी

Gypsy News

Gypsy News

नई दिल्ली. भारतीय प्रबंध संस्थान (IIM), बेंगलुरु की एक स्टडी में पाया गया है कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (PM Narendra Modi) का मासिक रेडियो कार्यक्रम ‘मन की बात’ (Mann Ki Baat) लड़कियों के कल्याण, योग और खादी के उपयोग जैसे मुद्दों पर केंद्रित कई नीतिगत पहलों को लोकप्रिय बनाने में सफल रहा है. प्रधानमंत्री मोदी ने अपनी वेबसाइट पर आईआईएम-बेंगलुरु और भारतीय स्टेट बैंक के सहयोग से किए गए इस अध्ययन को साझा किया और साथ ही बताया कि उनके मासिक रेडियो कार्यक्रम के प्रसारण के 9 साल पूरे हो गए हैं. उन्होंने कहा कि इस दिलचस्प अध्ययन में शामिल कुछ विषयों और उनके सामाजिक असर पर रोशनी डाली गई है.

आईआईएम की रिपोर्ट में कहा गया कि यह आश्चर्यजनक है कि कैसे इस कार्यक्रम के जरिए कई लोगों की जीवन यात्राओं और सामूहिक प्रयासों के बारे में बताया गया है. इस अध्ययन ने पिछले 9 साल में कार्यक्रम की 105 कड़ियों के असर का विश्लेषण किया है और संचार के शक्तिशाली तथा रणनीतिक माध्यम यानी मन की बात के जरिये लाए गए परिवर्तनों (मूर्त और अमूर्त दोनों) के स्थायी असर का आकलन किया है. इस रिपोर्ट में प्राकृतिक भाषा प्रसंस्करण (एनएलपी) का उपयोग करके ‘मन की बात’ के नीतिगत निहितार्थ का विश्लेषण करने पर भी ध्यान केंद्रित किया गया है.

इस अध्ययन के मुताबिक जनवरी 2015 में शुरू की गई ‘बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ’ योजना ने जनवरी 2015 में मन की बात के बाद ‘गूगल सर्च’ में लोकप्रियता हासिल की. दो साल तक लगातार ‘मन की बात’ के कार्यक्रम में इसके उल्लेख के बाद इसे ‘गूगल सर्च’ में लोकप्रियता मिली है. ‘बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ’ अभियान के एक भाग के रूप में शुरू की गई सुकन्या समृद्धि योजना (SSY) को बड़ी सफलता मिली है. एसएसवाई सरकार की एक छोटी जमा योजना है, जो विशेष रूप से बालिकाओं के लिए है. इस अध्ययन के मुताबिक ‘मन की बात’ कार्यक्रम के जरिए योग भी बेहद लोकप्रिय हुआ है और ‘गूगल सर्च’ में इसे अधिक बार खोजा गया.

PM मोदी के मन की बात पर फिदा है ये चाय वाला, रोजाना दुकान पर लिखता है दिल की बात…

PM मोदी के 'मन की बात' से कई योजनाओं और सामाजिक मुद्दों को मिली लोकप्रियता: IIM-बेंगलुरु

खादी को लेकर इस अध्ययन में कहा गया कि ‘हमारे स्वतंत्रता संग्राम के दौरान खादी को काफी लोकप्रियता मिली, लेकिन बदलते समय के साथ यह अपनी लोकप्रियता खोती जा रही है. ‘मन की बात’ कार्यक्रम के साथ, खादी को काफी लोकप्रियता मिली है और इसकी बिक्री में भी वृद्धि हुई है.’ इसमें कहा गया है कि प्रधानमंत्री मोदी द्वारा अपने रेडियो कार्यक्रम में मुद्रा लोन, स्टैच्यू आफ यूनिटी और मोटा अनाज का उल्लेख किए जाने के बाद इनमें भी रुचि बढ़ी.

Tags: Mann Ki Baat, Pm narendra modi, PM Narendra Modi News, PM Narendra Modi Speech

Source link

और भी

Leave a Comment

इस पोस्ट से जुड़े हुए हैशटैग्स