रात को घर के बाहर सो रहे लोगों पर काले रंग के जानवर ने कर दिया हमला, चबा गया सबके चेहरे, मच गई चीख-पुकार

Gypsy News

Gypsy News

खरगोन. मध्य प्रदेश के खरगोन जिले में दिल दहला देने वाली घटना हुई. यहां घर के बाहर सो रहे लोगों पर अंजान जानवर ने अचानक हमला कर दिया. इस हमले में 6 साल की मासूम सहित तीन लोग घायल हो गए. जानवर ने सभी के चेहरों और हाथों को बुरी तरह जख्मी कर दिया है. डॉक्टर का कहना है कि जख्मों से पता नहीं किया जा सकता कि किस जानवर ने हमला किया है. फिलहाल सभी की हालत खतरे से बाहर है. घायलों के परिजनों का कहना है कि जानवर ने अचानक इतनी तेजी से हमला किया कि कोई उसे देख नहीं सका. केवल इतना कहा जा सकता है कि उसका रंग काला था. काल रंग और कम लाइट की वजह से उसे देख पाना संभव नहीं था.

जानकारी के मुताबिक, घटना गोगांवा थाना इलाके के सेजला गांव की है. 5 जनवरी की देर रात तीनों घायलों को उपचार के लिए गोगांवा के शासकीय अस्पताल लाया गया. इनमें से 6 साल की मासूम बच्ची अंजलि और 40 वर्षीय मास्टर की हालत गंभीर थी. दोनों को उपचार के लिए जिला अस्पताल रैफर किया गया. जबकि, तीसरे घायल बुजुर्ग का गोगांवा के अस्पताल में इलाज चल रहा है. घायलों का इलाज कर रहे डॉक्टर विनय वास्कले ने बताया कि जानवर ने लोगों के चेहरों, हाथ-पैर बुरी तरह जख्मी कर दिए हैं. दोनों घायलों का उपचार किया जा रहा है. उनके प्राथमिक इलाज के बाद उनकी हालत खतरे से बाहर है.

परिजनों ने सुनाई आपबीती
घायलों के परिजनों ने बताया 5 जनवरी को करीब 9 बजे सबने खाना खाया और टहलने घर से बाहर निकल गए. उसके बाद करीब साढ़े दस बजे सब सो गए थे. रात करीब 12 बजे अचानक चीख-पुकार मच गई. देखा तो एक काले रंग का जानवर घरवालों पर हमला कर रहा है. सभी ने एक साथ चिल्लाया तो वह भाग गया. अंधेरा और कोहरा होने की वजह से हम ये नहीं देख सके कि जानवर कौन सा था. हम लोगों ने घर के अंदर लाइट चालू की तो पता चला हमारे बाबा, अंजलि और मास्टर को जानवर जख्मी कर गया है. सुबह होने पर हम घायलोंको लेकर प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र गए थे. यहां से अंजलि और मास्टर को इलाज के लिए खरगोन भेज दिया गया.

Tags: Mp news

Source link

और भी

Leave a Comment

इस पोस्ट से जुड़े हुए हैशटैग्स