हवाई जहाज बना रेलवे का ये शेयर, 1 साल में 424 फीसदी ऊपर भागा, एक्सपर्ट दे रहे खरीदने की राय

Gypsy News

Gypsy News

हाइलाइट्स

टीटागढ़ रेल सिस्टम्स रेलवे के लिए कोच निर्माण करती है.
यह एक प्राइवेट कंपनी है जो 1997 से काम कर रही है.
जून 2023 में कंपनी का मुनाफा 82 करोड़ रुपये रहा.

नई दिल्ली. शेयर में इन दिनों एक रेलवे शेयर की धूम मची हुई है. टीटागढ़ रेल सिस्टम्स (Titagarh Railsystems Ltd) का शेयर पिछले एक साल में 400 फीसदी से ज्यादा का रिटर्न देकर मल्टीबैगर बन गया है. शेयर में तूफानी तेजी देखी जा रही है और जानकारों को उम्मीद है कि अभी भी इसमें और बढ़त होने वाली है. इस शेयर ने सोमवार को अपना 52 हफ्तों का हाई छू लिया था. दिन के कारोबार में यह शेयर एनएसई पर 828 रुपये पर पहुंच गया था. हालांकि, यह बंद 818 के स्तर पर हुआ.

शुक्रवार को इस शेयर ने NSE पर 3 फीसदी से अधिक की बढ़त के साथ 818.35 पर कारोबार बंद किया. वहीं, BSE पर यह शेयर करीब 3 फीसदी बढ़कर 817.70 के स्तर पर बंद हुआ. 28 सितंबर 2022 को यह शेयर अपने 52 हफ्तों के निचले स्टर 136 रुपये पर पहुंच गया था. उसके बाद से अब तक यह 496 फीसदी ऊपर आ गया है. कंपनी का मार्केट कैप 10,116 करोड़ रुपये तक पहुंच गया है.

ये भी पढ़ें- पैसों की तंगी, घरवालों का विरोध, कभी मोची की ली मदद, फिर 4 जोड़ी जूते से खड़ा किया 600 करोड़ का मेगा एंपायर

शेयर ने जमकर बरसाया पैसा
3 साल में इस शेयर ने अपने निवेशकों को 1500 फीसदी से ज्यादा का रिटर्न दिया है. अगर तीन साल पहले किसी ने इस कंपनी के शेयरों में 1 लाख रुपये का निवेश किया होता तो आज उसकी 1 लाख की रकम 16 लाख रुपये से ज्यादा हो गई होती. गौरतलब है कि 3 साल के अंदर सेंसेक्स केवल 68 फीसदी के आसपास ही बढ़ा है. 2023 में यह शेयर वर्ष दर तिथि के आधार पर 70 फीसदी से अधिक बढ़ा है. छोटी अवधि में भी इस शेयर ने अपने निवेशकों को जबरदस्त रिटर्न दिया है. टीटागढ़ के शेयर 5, 20, 50, 100 और 200 दिन के मूविंग एवरेज से ऊपर कारोबार कर ररहे हैं.

क्या है जानकारों की राय?
खुदरा ब्रोकरेज ऐप ग्रो पर एक्सपर्ट्स के समूह की ओर से इसे 100 फीसदी बाय रेटिंग मिली है. एंटीक स्टॉक ब्रोकिंग ने कहा है कि टीटागढ़ रेल सिस्टम्स अब भारत में यात्री रेल सिस्टम में एक ऐसा मैन्युफैक्चरिंग सेटअप तैयार कर दिया है जिसे वापस दोहराना काफी मुश्किल है. ब्रोकरेज का मानना है कि अगले 5 साल में कंपनी का कारोबार 9,000-10,000 करोड़ रुपये से अधिक बढ़ सकता है. टीटागढ़ अगले 3 साल में 600 करोड़ रुपये के निवेश की योजना बना रही है.

क्या करती है कंपनी?
टीटागढ़ का मुख्यालय कोलकाता में है. यह एक निजी कंपनी है जो ट्रेन के डिब्बे (मालगाड़ी और पैसेंजर दोनों) बनाती है. यह ट्रेन के डिब्बे बनाने वाली देश की पहली निजी कंपनी है. इसकी शुरुआत 1997 में हुई थी. कंपनी एक वित्त वर्ष में करीब 8400 डिब्बे बनाती है जिसे बढ़ाकर 10,000 करने की योजना है. 2019 में कंपनी को मेट्रो के लिए डिब्बे बनाने का पहला ऑर्डर मिला था. कंपनी के वित्त की बात करें तो जून 2023 तिमाही में इशे 911 करोड़ रुपये की आय प्राप्त हुई और मुनाफा 82 करोड़ रुपये रहा. जबकि जून 2022 में रेवेन्यू 432 करोड़ रुपये और मुनाफा मात्र 1 करोड़ रुपये था.

(Disclaimer: यहां बताए गए स्‍टॉक्‍स सिर्फ जानकारी देने के उद्देश्य से हैं. यदि आप इनमें से किसी में भी पैसा लगाना चाहते हैं तो पहले सर्टिफाइड इनवेस्‍टमेंट एडवायजर से परामर्श कर लें. आपके किसी भी तरह की लाभ या हानि के लिए लिए News18 जिम्मेदार नहीं होगा.)

Tags: BSE Sensex, Business news in hindi, Earn money, Multibagger stock, NSE, Stock market

Source link

और भी

Leave a Comment

इस पोस्ट से जुड़े हुए हैशटैग्स