बिना अंग्रेजी दवाइयों के अब आयुर्वेद से होगा कैंसर का इलाज, जानिए तरीका

Gypsy News

Gypsy News

ईशा बिरोरिया/ ऋषिकेश:उत्तराखंड का ऋषिकेश योग और ध्यान का केंद्र है. यही योगनगरी ध्यान के साथ ही आयुर्वेद के लिए भी प्रसिद्ध है. आयुर्वेद हमारी सबसे पुरानी चिकित्सा पद्धति में से एक है. पर इस चिकित्सा पद्धति का ज्यादा प्रचलन नहीं था. वहीं दूसरी तरफ बात करें एलोपैथी की, तो एलोपैथी आयुर्वेद से काफी आगे निकल गई है, पर इन दिनों लोग एलोपैथी से हटकर आयुर्वेद की ओर बढ़ने लगे हैं. वहीं आयुर्वेद कैंसर जैसी जानलेवा बीमारी में भी सहायक साबित होता है.

Local 18 के साथ बातचीत में उत्तराखंड के ऋषिकेश में वीरभद्र रोड पर स्थित स्थित नीरज नेचर क्योर की मैनेजर और आयुर्वेदाचार्य प्रीति चक्रवर्ती बताती हैं कि आयुर्वेद कोई आज की थेरेपी नहीं है, यह हजारों साल पुरानी चिकित्सा पद्धति है, जो बीमारियों को जड़ से समाप्त कर देती है. वहीं एलोपैथी कुछ हद तक ही बीमारियों को खत्म कर पाती हैं. आयुर्वेदिक ट्रीटमेंट की सबसे अच्छी बात यह है कि इसके कोई भी साइड इफेक्ट्स नहीं हैं, इसीलिए इन दिनों सभी आयुर्वेद की ओर बढ़ रहे हैं. वहीं यह कैंसर जैसी बड़ी बीमारी को दूर करने की भी ताकत रखता है. आयुर्वेद की विभिन्न थेरेपी जैसे की शिरोधारा, नाड़ी मर्दन क्रिया, प्रेशर प्वाइंट थेरेपी और जड़ी बूटियां कैंसर के इलाज में कारगर साबित होती हैं.

आयुर्वेद में कैंसर का इलाज!

प्रीति बताती हैं कि कैंसर भले ही एक छोटा सा शब्द हो लेकिन एक बहुत खतरनाक बीमारी है. यह आम बीमारियों की तरह केवल दवाइयों से ठीक नहीं होता. इसके लिए आयुर्वेदिक थेरेपी साथ ही आयुर्वेदिक जड़ी बूटियां और ब्रेन डिटॉक्स तीनों की जरूरत होती है. कैंसर मरीजों को इनके द्वारा बनाए गए लेप लगाए जाते हैं, इसके साथ ही समय-समय पर जरूरी थेरेपी दी जाती है.

नाड़ी मर्दन क्रिया का सबसे ज्यादा इस्तेमाल

कैंसर के इलाज में सबसे ज्यादा नाड़ी मर्दन क्रिया का इस्तेमाल किया जाता है. इसके साथ ही कैंसर पेशेंट को यहां 10 से 15 दिनों के लिए रखा जाता है. उनके साथ एक परिजन को भी रोका जाता है, जिसे खानपान, सभी जड़ी बूटियों और लेप लगाने का तरीका बताया जाता है. साथ ही प्रेशर प्वाइंट थेरेपी का तरीका दिखाया जाता है ताकि वापस जाने के बाद जरूरत के समय वो काम आए. इस पूरे ट्रीटमेंट के लिए प्रतिदिन 28,000 रुपये लिए जाते हैं. जिसमे खाना, लेप, थेरेपी और दो महीने की दवाइयां उपलब्ध कराई जाती हैं. ज्यादा जानकारी के लिए आप ऋषिकेश में AIIMS रोड पर स्थित नीरज नेचर क्योर की आयुर्वेदाचार्य प्रीति चक्रवर्ती से उनके मोबाइल नंबर 7906016881 पर संपर्क कर सकते हैं.

Disclaimer: इस खबर में दी गई दवा/औषधि और हेल्थ बेनिफिट रेसिपी की सलाह, हमारे एक्सपर्ट्स से की गई चर्चा के आधार पर है. यह सामान्य जानकारी है न कि व्यक्तिगत सलाह. हर व्यक्ति की आवश्यकताएं अलग हैं, इसलिए डॉक्टर्स से परामर्श के बाद ही कोई चीज उपयोग करें. कृपया ध्यान दें, Local 18 की टीम किसी भी उपयोग से होने वाले नुकसान के लिए जिम्मेदार नहीं होगी.

Tags: Health News, Health tips, Hindi news, Local18

Source link

और भी

Leave a Comment

इस पोस्ट से जुड़े हुए हैशटैग्स