FIR No-208 Review: एक कैदी का हुकुम बजाती थी पूरी जेल, सन्न कर देगी गुनाहों की यह दास्‍तां, खास है News18 India की वेब सीरीज

Gypsy News

Gypsy News

News18 India FIR No-208 Review: न्‍यूज18 इंडिया ने टीवी न्‍यूज चैलनों के इतिहास में एक नया अध्‍याय जोड़ा है. शुक्रवार को न्‍यूज18 इंडिया ने महाठग सुकेश चंद्रशेखर की कहानी बयां करती अपनी वेब सीरीज ‘FIR No. 208’ यूट्यूब पर रिलीज की. अक्‍सर सच्‍ची घटनाओं पर बनने वाली फिल्‍में ‘क्रिएट‍िव ल‍िबर्टी’ के नाम पर तथ्‍यों के साथ सोच भी परोस ही देती हैं. त‍िहाड़ जेल में की बैरक नंबर 2 में बैठकर सुकेश ने महाठगी का जो खेल खेला है, उसकी ये वेब सीरीज स‍िलस‍िलेवार तफ्तीश करती है. न्‍यूज18 इंड‍िया के मैनेज‍िंग एड‍िटर क‍िशोर अजवाणी ने ज‍िस खूबसूरती के साथ इस सीरीज को पेश क‍िया है, वो देखने लायक है. न्‍यूज18 इंडिया के र‍िपोर्टरों से लेकर पुल‍िस के सीनियर ऑफिसरों तक की टेस्‍टमनी इस वेब सीरीज में नजर आती है. 5 एपिसोड की इस वेब सीरीज को न्‍यूज18 इंडिया के यूट्यूब चैनल पर देखा जा सकता है.

इस सीरीज के कंटेंट की बात करें तो ये सीरीज सुकेश की जेल में शुरू हुई महाठगी के स‍िलस‍िले से लेकर उसके हिस्‍ट्रीशीटर होने तक के सारे सफर को इस वेब सीरीज में द‍िखाया गया है. इन एप‍िसोड्स को ‘वसूली’, ‘रंगे हाथ’ ‘ह‍िस्‍ट्रीशीट’, राजावाड़ी और दो पत्ती टाइटल के एपिसोड में बांटा गया है. क‍िसी न्‍यूज चैनल ने वेब सीरीज बनाने की पहली कोशिश की है और यही इस सीरीज की सबसे द‍िलचस्‍प बात भी है. सीरीज में वो कहान‍ियां बताई गई हैं, जो इन चश्‍मदीदों के सामने हुई है. कहानी के सूत्रधार वही लोग हैं, जो इस महाठग के इन कारनामों के चश्‍मदीद रहे हैं.

इन सारे एपिसोड को एंकर के तौर पर जोड़ते नजर आ रहे हैं न्‍यूज18 इंड‍िया के मैनेज‍िंग एड‍िटर क‍िशोर अजवाणी, ज‍िनकी स्‍टोरी-टेल‍िंग आपको पहले ही एपिसोड से इस सीरीज से जोड़ देती है. अक्‍सर हमने देखा है कि क्राइम थ्र‍िलर को पेश करने वाले सूत्रधार थोड़े ड्रेमेट‍िक हो, चीजों को और भयावय द‍िखाने की कोशिश करते हैं. लेकिन होस्‍ट क‍िशोर अजवाणी ने इस अपराध को ‘अपराध’ की तरह ही पेश क‍िया है और ये देखने में काफी मजा आता है.  इस सीरीज में एक ऐसे शातिर आरोपी की कहानी है, जो 32 मुकद्दमों में आरोपी है, लेकिन इसके ख‍िलाफ आज तक एक भी आरोप साब‍ित नहीं हुआ. सुकेश चंद्रशेखर नाम का ये लड़का कॉल-स्‍पूफ‍िंग के जरिए अपनी ठगी को अंजाम देता था. पहले एपिसोड में सीरियल पुल‍िस ऑफिसरों और र‍िपोर्टरों की असली कहानी के जरिए बताया गया है कि कैसे इसके ख‍िलाफ शक पैदा हुआ और इसपर नजर गई.

वहीं दूसरे एपिसोड में इस शातिर अपराधी के रंगे हाथों पकड़े जाने की दास्‍तां है. सोच‍िए, ये शख्‍स जेल में बैठकर लंदन के नंबरों से लोगों को कॉल कर ठगी का काम करता था. सुकाश चंद्रशेखर उर्फ सुकेश चंद्रशेखर के अपराध की कहान‍ियां हमने पहले भी चैनलों पर देखी है, अखबारों में पढ़ी है. लेकिन इस वेब सीरीज में इसके द्वारा रचे गए धोखे के जाल और उन अपराधों को द‍िखाया गया है, जो अभी तक सार्वजनिक डोमेन में नहीं आए हैं. 2022 में पुल‍िस की ग‍िरफ्त में आने से पहले ही इस ठगे ने लोगों से करोड़ों रुपए ठगे हैं. इस पूरी सीरीज को देखने में काफी मजा आता है, क्‍योंकि आपको इस कहानी के कई अनसुने तथ्‍य सुनने को म‍िलते हैं. तीसरे एपिसोड में सुकेश की कंपनी में काम करने वाले कर्मचारी से लेकर उस पुल‍िस अधिकारी तक की कहान‍ियां हैं, ज‍िन्‍होंने सुकेश के इस ठगी के धंधे को पकड़ा था. साथ ही कई क‍िस्‍सों और कहान‍ियों के जरिए इस अपराधी की मानस‍िकता, इसके अपराध के तरीके आद‍ि पर शानदार तरीके से दर्शकों तक लाया गया है.

यहां देखें इस सीरीज का पहला एप‍िसोड. 

ये वेब सीरीज अपने आप में एक बेहतरीन प्रयोग है, ज‍िसमें अपराध की दुनिया की इस थ्र‍िल‍िंग कहानी को जबरदस्‍त तरीके से द‍िखाया गया है.

 यहां क्लिक देखें वेब-सीरीज ‘FIR No. 208’
Episode 1 – वसूली

Episode 2 -रंगे हाथ
Episode 3 – हिस्ट्रीशीट
Episode 4-राजावाड़ी
Episode 5 -दो पत्ती

अगर आप क्राइम-थ्र‍िलर सीरीज देखना पसंद करते हैं, तो ये वेब सीरीज आपको जरूर देखनी चाहिए. इस वेब सीरीज को 4.5 स्‍टार.

डिटेल्ड रेटिंग

कहानी :
स्क्रिनप्ल :
डायरेक्शन :
संगीत :

Tags: News18 India, Sukesh Chandrasekhar

Source link

और भी

Leave a Comment

इस पोस्ट से जुड़े हुए हैशटैग्स