VIDEO: आप सबसे ज्यादा प्रजा से प्यार करते हैं या घरवालों से? स्कूली छात्रा के सवाल पर पीएम मोदी का जवाब

Gypsy News

Gypsy News

वाराणसी. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को अपने संसदीय क्षेत्र बनारस पहुंचकर 1600 करोड़ की कई बड़ी योजनाओं की सौगात दी. क्रिकेट स्टेडियम का शिलान्यास किया. इस दौरान पीएम मोदी ने वाराणसी के अटल आवासीय स्कूल के बच्चों से भी मुलाकात की. उनके साथ उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी भी रहे. प्रधानमंत्री ने यहां बच्चों से बात की. सवाल भी पूछे. उन्होंने इसका वीडियो एक्स पर शेयर किया है. उन्होंने लिखा, ‘इन बच्चों में मुझे आशा, उत्साह, दृढ़ संकल्प और बहुत सारी ऊर्जा दिखाई देती है. यूपी के अटल आवासीय विद्यालयों में पढ़ने वाले इन युवाओं से मिलकर खुशी हुई.

शनिवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बनारस में आयोजित कार्यक्रमों में अटल आवासीय विद्यालय का उद्घाटन भी शामिल था. प्रधानमंत्री ने कार्यक्रम के साथ यहां के बच्चों से संवाद भी किया. बच्चों ने खुलकर पीएम मोदी से बात की और सवाल भी पूछे. एक बच्चे ने पूछा, भारत में पहले इतनी स्वच्छता नहीं थी, आप आए तो स्वच्छता होने लगी..आप ये कैसे करते हैं? पीएम मोदी ने बच्चे को दिए जवाब में कहा, ‘ ये मैं नहीं करता आप लोग करते हैं.

इसी दौरान दूसरी बच्ची ने प्रधानमंत्री से सवाल किया, आप अपनी प्रजा से सबसे ज्यादा प्यार करते हैं या अपने घरवालों से? इस पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा, जब राजा होते हैं, तब प्रजा होती है, मैं तो लोगों का पुजारी हूं..’ अगली बच्ची ने पूछा, आपने क्या सोचकर ये अटल आवासीय विद्यालय खोला? इस पर पीएम मोदी ने हंसकर जवाब दिया.. ‘ये तो योगी जी ने सोचा है. योगी जी कुछ न कुछ नया सोचते रहते हैं’

पीएम मोदी ने संवाद का वीडियो किया शेयर
पीएम नरेंद्र मोदी ने बच्चों के साथ संवाद का वीडियो भी ट्वीटर हैंडल पर शेयर किया है. उन्होंने विद्यालय के बच्चों को ऊर्जावान बताया. साथ ही कहा, ‘यूपी के अटल आवासीय विद्यालयों में पढ़ने वाले इन युवाओं से मिलकर खुशी हुई है.’

सीएम योगी का ड्रीम प्रोजेक्ट
अटल आवासीय विद्यालय सीएम योगी का ड्रीम प्रोजेक्ट है. सीएम के निर्देश पर सभी स्कूलों में 11 सितंबर से शैक्षिक सत्र शुरू हो चुका है. अटल विद्यालय श्रमिकों के बच्चों को मुफ्त शिक्षा देने के लिए शुरू हुए हैं. सभी 16 मंडलों में कोरोना में निराश्रित हुए और पंजीकृत श्रमिकों के बच्चों को मुफ्त शिक्षा मिल रही है.

अटल आवासीय स्कूल की क्या है खासियत?
राज्य में लगभग 1115 करोड़ रुपये की लागत से 16 अटल आवासीय विद्यालय बनाए गए हैं. यह विद्यालय हर मंडल स्तर पर विशेष रूप से मजदूरों, निर्माण श्रमिकों और कोविड-19 महामारी के कारण अनाथ हुए बच्चों के लिए शुरू किए गए हैं. इन विद्यालयों का उद्देश्य गुणवत्तापूर्ण शिक्षा प्रदान करना और बच्चों के समग्र विकास में सहायता करना है. प्रत्येक स्कूल 10-15 एकड़ के क्षेत्र में बनाया गया है. इन स्कूलों में क्लासरूम्स के अलावा खेल मैदान, मनोरंजक क्षेत्र, एक मिनी सभागार, छात्रावास परिसर, मेस और कर्मचारियों के लिए आवासीय फ्लैट हैं. इन आवासीय विद्यालयों में प्रत्येक में लगभग 1000 छात्रों को समायोजित किया जाएगा.

Tags: Narendra modi, UP School, Varanasi news, Yogi adityanath

Source link

और भी

Leave a Comment

इस पोस्ट से जुड़े हुए हैशटैग्स